समर्थ योजना – कपड़ा क्षेत्र में 10 लाख युवाओं के लिए नि:शुल्क प्रशिक्षण

Samarth Yojana 2018

Samarth Yojana – भारत सरकार द्वारा देश मे युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए एक नयी योजना शुरू की है समर्थ योजना। यह योजना भारत सरकार के वस्त्र मंत्रालय द्वारा शुरू की गई है जिसके तहत पुरे देश में युवाओं को कपड़ा क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। इस योजना के माध्यम से देश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान करने में सहायता मिलेगी। इस योजना के तहत लगभग 10 लाख युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

Samarth Yojana – समर्थ योजना का मुख्य उद्देश्य

भारत सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य युवाओं को कपड़ा क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना है। योजना के अनुसार 2025 तक कपड़ा क्षेत्र में $ 300 बिलियन के निर्यात का लक्ष्य तय किया गया है जिसके लिए 10 लाख युवाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार द्वारा 1300 करोड़ रुपये की राशी खर्च की जाएगी। इस योजना के माध्यम से कपडा मूल्य श्रृंखला को कवर करना है।

Samarth Yojana – समर्थ योजना के लिए प्रशिक्षण पैटर्न और वित्त पोषण

प्रशिक्षण पैटर्न और वित्त पोषण

इस योजना के अंतर्गत युवाओं को विशेष प्रकार के प्रशिक्षण प्रदान किये जायेंगे जिसका प्रशिक्षण पाठ्यक्रम राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) के अनुरूप होगा। इसके तहत सामान्य मानदंड कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के वित्तपोषण के अनुसार किया जायेगा।

इस योजन के तहत एक बेहतर प्रशिक्षण प्रदान के लिए वस्त्र समिति को संसाधन सहायता एजेंसी के रूप में कार्य करना होगा। इसके तहत प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए युवाओं का चयन प्रक्रिया का उपयोग किया जायेगा। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास अपना आधार कार्ड होना चाहिए।

Samarth Yojana

Minority Welfare Schemes List | अल्पसंख्यकों के लिए सरकारी योजनाओं की सूची 2018

समर्थ योजना – वस्त्र क्षेत्र में कौशल विकास

  • इस योजना के माध्यम से एक अच्छा रोजगार प्राप्त करने के लिए प्रतिभाशाली युवा इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • योजना के अनुसार सरकार द्वारा 2020 तक 10 लाख युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान करना है।
  • इस योजना को सक्षम बनाने के लिए सरकार द्वारा 1300 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे जिसमे कताई और बुनाई को शामिल नहीं किया गया है।
  • इस योजना से 70% सफल प्रशिक्षुओं को सुनिश्चित किया जायेगा।
  • इस योजना के माध्यम से निर्यात को बढ़ावा बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा 2025 तक, कपड़ा क्षेत्र में $ 300 बिलियन के निर्यात बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है।

महत्वपूर्ण लिंक

इस योजना के सम्बन्ध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते है।

आधिकारिक वेबसाइट – www.samarth-textiles.gov.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *